Convert Script

New Articles

  Lalit Magotra
इक सफर इक जिंदगी


केशव नै रवि ते शांति प्रिया बक्खी दिखदे आखेआ , ‘‘जेकर तुस बुरा नेईं मन्नो तां तुसें गी बिजन मंगे इक्क सलाह् देना चाह्‌न्नां । जिंदगी च प्यार करने ते प्यार दा पर्व मनाने दा कोई मौका नेईं खुंझाना चाहिदा,सगुआं एह्‌दे लेई ब्हान्ने तुप्पने चाहिदे ।’’

Read more
  Promila Manhas
शिकल दपैह्‌र

शिकल दपैह्‌र
रस्ता सुन्ना
सुन्न-मसुन्ना।
अक्क चढ़े दा दौनें पास्सैं
बर्‌हैंकड़ किश कंडेआरी बी

Read more

New Posts By Users

  Chhatrapal
यथा परजा तथा राजा

जंगला इच नमी वन-मंत्री-परिषद् दा गठन होआ करदा हा। हर जाति दे पशु पक्खरू रैलिय

Read More
  Vijaya Thakur
मते दिनें दे मगरा

मते दिनें दे मगरा चित-बुद्ध होए भ्याल सजरे-सजरे अत्त सलक्खने होए ख्याल । मत

Read More
  विक्रम
विक्रम कि कहानी

मैन एक लद्का हू।

Read More
  Abdul Qadir Kundria
मुंढ डंग

तम्हूड़ियें दे खक्खरे दी अपनी पछान ऐ बिस्सु आह्‌ले डंगें इच पीड़ें आह्‌ली ज

Read More
  Abdul Qadir Kundria
ब्हारां

जाड़ैं दिक्खो रंग-बरंगे फुल्लें दियां ब्हारां हर ब्हार च पक्खरू उडदे कन्नै

Read More
  Abdul Qadir Kundria
बूह्‌टे लाने

नमें बीएं दी लाई पनीरी, बूह्‌टे हुन उगाने एह् अबादी मती बधाइयै, इ’यै जागत खढा

Read More
  Abdul Qadir Kundria
नशा

डोगरी संस्था उट्ठी खड़ोती नौजवान बचाना टीम जम्मू बी अग्गें आई ऐ, नशा हुन मका

Read More
  डा० पंकज 'अंजान' सारस्वत
डोगरी मुक्त शंद कवता: फकीर चन्न

सप्ताहांत अभ्यास 30-05-2020 तसवीर सौजन्य:@ Ajay Thakur डोगरी कवता- फकीर चन्न (स्वछंद) ००

Read More
  Keerti Thakur
ग़ज़ल

करां बी केह् समीने दा तरीका। बड़ा औखा ऐ जीने दा तरीका।। सभा$ मेरा ब’रीका जाग

Read More
  Shashi Pathania
साइबर-एरा च डोगरी : चनौतियां ते अवसर (मौके)

सार: प्रस्तुत लेख दा उद्देश्य साइबर-एरा च डोगरी गी दरपेश चनौतियें ते उपलब्ध

Read More
  Vijaya Thakur
मते दिनें दे मगरा

मते दिनें दे मगरा चित-बुद्ध होए भ्याल सजरे-सजरे अत्त सलक्खने होए ख्याल । मत

Read More
  Ashok Angurana
देना गै जिं’दी फितरत ऐ

में धारें गी जोरियै आल दित्ती ओह् केईं गुणा बधियै सरीली ते सजरी होइयै परतो

Read More
  Sham Sajan
गज़ल

भटकन तेरा दोश नेईं मजबूरी ऐ हिरणा तेरी धुन्नी इच्च कस्तूरी ऐ । मेरे चिट्टे

Read More
  Kuldeep Kippi
भुआड़ा

लोड़ नेईं ऐ मांगवें कक्खें दी मीं भुआड़ें ताईं की जे किश कक्ख में सांभी रक्

Read More
  Gianeshwer Sharma
गीत

कु’न जान्नै जे कुस छलिये ने की कर एह् भुलखाइयां, कूंजां तरेहाइयां उड्डी जीव

Read More
  Chanchal Bhasin
भलेखा

केईं बारी सोच औंदी ऐ जे धार्मक ते तीर्थ-स्थानें पर रींघां लाइयै बैठे दे मंग

Read More
  Usha Kiran
त्रुट्टे दे धागे गंढदे जाएओ

कुत्ते, काएं ते चिड़ियें दा हिस्सा कीड़ी-मकोड़ी ते लुढ़ियें दा हिस्सा धिये

Read More
  Sandeep Sufi
शारे

एह् वक़्त दे शारिये न ‘सूफी’ जो शारें-शारें शारे करा दे ना तेरी समझा ना मेर

Read More
  Promila Manhas
समुद्र-मंथन

तुगी कु’न्न समुंद्रै मोकला बनाया कश तेरै दस्स , केह् ऐ अपना दनां बचारी मिगी

Read More
  Inderjeet Kesar
बाणप्रस्थी

सुख-सुवधा सब भोगी ऐठा, जी लेई यरो घ्रिस्ती जोका मेरा चित्त करै दा होई जां बाण

Read More
  Ashok Angurana
गुज्झियां पीड़ां

किश दुख म्हेशा लेई होंदे न किश गुज्झियां पीड़ां ला-इलाज ओह् घड़ियां जेह्‌ड

Read More
  Ashok Khajuria
मेरी आत्म-कत्थ

में दीआ आं ! बलदा रौह्‌न्नां मजारैं, मढ़ियैं,शिवालें च गरीबड़ें दी बस्ती च क

Read More
  Lalit Magotra
इक पल

में किन्ने ब’रें दा इक पल घोटी रक्खे दा हा अपनी मुट्ठी च सोचे दा हा जिसलै तूं

Read More
  Abdul Qadir Kundria
करोना-5

अच्छी सोच करियै असें अपने घरैं बौह्‌ना हमला करी निं सकै उप्पर जालम एह् करोन

Read More
  Vijaya Thakur
अनसोधा जीवन-पैंडा

अनसोधे पैंडे पर चलदे पैंडे गी मंज़िल इच्च ढलदे झल्ली लैंदा सब किश बंदा पर क

Read More
  Ratan Bhardwaj
गीत

निक्के होंदे सपाही गलांदी ही मां नांऽ फौजै च तां हा लखाई लेआ मरने शा पैह्‌ले

Read More
  Arvind Raina
संदेसा

सूरज दी रश्में गी घर परतोने दा संदेसा आया दिना दे गोरे शैल मुंहै पर स’ञै ने प

Read More